How to Increase Immunity In Hindi इम्यून सिस्टम को कैसे बढ़ाएं

How to Increase Immunity Article In Hindi Language With Proof

रोग प्रतिरोधक क्षमता को कैसे बढ़ाएं – How to Increase Immunity से संभंधित ये लेख आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ने में मदद करेगा और साथ में ये भी बताएँगे की कमज़ोर Immune System के क्या क्या लक्षण हैं।

  • क्या आपको बहुत जल्दी सर्दी ज़ुकाम हो जाता है ?
  • क्या आप हमेशा थके थके से महसूस करते हैं ?
  • आपको त्वचा से संभंधित कोई रोग है ?

या फिर आपके बाल झड़ने शुरू हो गए हैं। ये सभी कमज़ोर इम्यून सिस्टम (Immune System) की निशानियां हैं।

लेकिन आप घबराईये मत, इस लेख में हम आपको बताएँगे 5 आसान से तरीके जिससे आप घर बैठे ही इम्यून सिस्टम यानी रोग प्रतिरोधक क्षमता को आसानी से बढ़ा सकते हैं।

रोग प्रतिरोधक क्षमता कैसे बढ़ाएं ? How to Increase Immunity in Hindi with these simple tricks

Immune System हमें खतरनाक जीवाणुयों से बचने में मदद करता है। कमजोर रोग प्रतिरोधक क्षमता (Immune System) का होना मतलब कई बिमारियों को न्यौता देना।

कभी कभी तो रोग प्रतिरोधक क्षमता इतनी कमज़ोर हो जाती है की वो हमारे शरीर के खिलाफ काम करने लग जाती है। Arthritis और Type One Diabetes भी इसी के उदहारण हैं।

तनाव (Stress), गलत खान पान और उम्र के साथ हमारी रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होने लगती है। दोस्तों अगर इस वक़त आपका इम्यून सिस्टम मजबूत है गलत खान पीन से भी आपको कोई फर्क नहीं पड़ता तो इसकी कोई गारंटी नहीं है की ये आगे भी ऐसा ही रहेगा।

रोग प्रतिरोधक क्षमता को बूस्ट उप करना एक तरह का स्वस्थ्य बीमा ही है। तो दोस्तों शेयर आपके साथ ऐसे पांच तरीके जिनसे प्राकृतिक रूप से अपनी रोग प्रतिरोधक क्षमता (Immunity) को बढ़ा सकते है।

1. अश्वगंधा से बढ़ाएं इम्यून सिस्टम Ashwagandha for Improve Immune System

अश्वगंधा भारत की एक ऐसी शक्तिशाली जड़ी बूटी है जिसे Indian Ginseng कहा गया है। रोग प्रतिरोधक क्षमता को प्राकृतिक रूप से बढ़ाने में अश्वगंधा का बड़ा नाम है।

एक गिलास गरम दूध में एक छोटा चमच्च अश्वगंधा चूरण को मिला लें और उसे सोने से पहले धीरे धीरे पी लें। अगर आपको दूध नहीं पचता तो अश्वगंधा को गर्म पानी में भी ले सकते है।

2. गिलोय एंटी ऑक्सीडेंट्स का भण्डार Tinospora Cordifolia

गिलोय एक अनोखी जड़ी बूटी है जिसे अमृता कहा जाता है। अमृता मतलब अमरता की जड़, सेहत की संजीवनी, गिलोय Anti Oxidants का एक शक्तिशाली भंडार है जो शरीर में बने Free Radicals से बखूबी लड़ता है।

गिलोय से Toxins बाहर निकलते हैं और खून साफ़ होता है और जीवाणु और कीटाणु मरते हैं। सिर्फ एक चमच्च गिलोय का पाउडर गुनगुने पानी में खाली पेट पियें।

3. मिंट ड्रिंक तरो ताज़ा करे Refreshing Mint Drink

रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए यह एक बहुत हे स्वादिष्ट पेय (Drink) है। इसको बनाने के लिए एक पतीले में 500 मि.ली. पानी डाल दें और उसमें आधा छोटा चमच्च हल्दी पाउडर मिला लें।

दो मिनट उबाल लें और फिर इसमें 10 से 12 पत्तियां पुदीने की डाल दें अब इसे तब तक उबलने दें जब तक पानी आधा ना हो जाये।

अब बस इसे गिलास में दाल दें और थोड़ा ठंडा होने दें फिर इसमें एक चमच्च शहद का मिला लें। ये पेय (Drink) जितना स्वादिष्ट है, इम्यून सिस्टम को बढ़ाने के लिए उतना ही असरदार भी तो आप ज़रूर सेवन कर के देखें।

Note:- How to Increase Immunity In Hindi के साथ साथ और भी महत्वपूर्ण लेख हमारी वेबसाइट पर सम्पादित किये गए हैं। आप वह भी पढ़ कर अपने ज्ञान में वृद्धि कर सकते हैं।  

4. हल्दी कई गुणों की खान Best Immune Booster Turmeric Powder

हल्दी भारतीय खाने में इस्तेमाल होने वाला एक आम मसाला है लेकिन अपने एंटी ऑक्सीडेंट्स (Anti Oxidant), एंटीबैक्टीरियल  (Antibacterial), एंटीफंगल (Anti fungal), और एंटी वायरल (Anti Viral)  गुणों से Immunity को बहुत जल्दी बढ़ाता है।

हल्दी में एक और तत्व होता है करक्यूमिन (Curcumin), शोध के अनुसार करक्यूमिन एक बहुत प्रभावशाली तत्व है। यह कैंसर के विकास को, उसके आगे बढ़ने को रोकता है।

Curcumin Benefits

यह Anti Inflammatory का स्रोत भी है Inflammation से हमारे शरीर में बहुत तरह के रोग हो जाते हैं जैसे :-

  1. जोड़ों के दर्द – Arthritis
  2. स्वप्रतिरक्षित रोग – Autoimmune Disease
  3. त्वचा के रोग – Skin Disease
  4. दमा  – Aasthma
  5. दर्दें  – Pain

रात को सोने से पहले गुनगुने दूध में आधा चमच्च हल्दी पाउडर मिला कर पिएं। हल्दी वाले दूध में यदि एक चुटकी काली मिर्च मिला दी जाए तो ये और भी ज़्यादा असरदार हो जाता है।

Also Read:-

5. आँवला विटामिन C का स्रोत Indian Gooseberry

दोस्तों रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने क लिए विटामिन C की बहुत बड़ी भूमिका होती है। और आँवला में विटामिन C भरपूर मात्रा पाया जाता है है इतना की जितना बीस संतरों में विटामिन C होता है उतना तो एक आँवले में ही मिल जायेगा।

दिन में अगर एक आँवला खाने की आदत डाल लें तो आप इन्फेक्शन से दूर रह सकते हैं। वैसे आप आँवला को जूस, आचार, या मुरब्बे के रूप में भी खा सकते हैं।

दोस्तों ये तो ज़ाहिर ह की आप इन सारी चीज़ों को एक साथ शुरू नहीं कर पाएंगे इसलिए इनमें से जो आपको अच्छी लगे वो शुरू कर दें और दो महीने तक इनका सेवन चालु रखें, फिर बंद कर दें आपको असर तो 10 -1 5 दिनों में ही दिख जायेगा।

6. अदरक

सर्वप्रथम अदरक एंटीबैक्टीरियल खाद्य पदार्थ है जिसके कई फायदे हैं। यह आपकी आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद करता है। साथ ही साथ यह एक नेचुरल ब्लड थिनर है जो आपके रक्त को पतला करता है और कोलेस्ट्रॉल के स्तर को कम करता है।

gingerol in ginger

Ginger यानी अदरक के अंदर एक Anti Inflammatory यौजिक पाया जाता है जिसका नाम है जिन्जेरॉल (Gingerol), यह आपकी नसों को आराम देता है और आपके शरीर में रोग पैदा करने वाले Inflammation का नाश करता है।

7. लहसुन Garlic

अगला खाद्य पदार्थ है लहसुन यानी Garlic, इसके अंदर इम्यून सिस्टम के तत्व कूट कूट कर भरे होते हैं। लहसुन के अंदर एक सल्फरस कंपाउंड होता है जिसका नाम है एल्लीसिन (Allicin), यही वो Immune Boosting कंपाउंड है जो लहसुन में मौजूद होता है और आपकी रोग प्रतिरोधक क्षमता को कई गुना बढ़ाता है।

लहसुन हमारे रक्तचाप को भी कम करता है। लहसुन में भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सिडेंट्स Anti Oxidant होते हैं जो हमारे शरीर में मौजूद Free Radicals का नाश करते हैं। यही Free Radicals आगे चल कर कैंसर जैसी भयानक बिमारियों को जन्म देते हैं।

कुछ ख़ास बातें :-

  • जितना हो सके घर का खाना खाएं।
  • मौसमी फ़ल रोज़ खाएं।
  • 15 से 20 मिनट तक सूर्य की रौशनी में ज़रूर बैठें।
  • रोज़ाना व्याम करें।
  • जिन चीज़ों से मधुमेह का खतरा हो वह कम खाएं।
  • पानी ज़रूर पिएं ताकि शरीर कुदरती तरीके से डीटॉक्स करता रहे।
  • सिगरेट व् शराब से जितना हो सके दूर रहें।

निष्कर्ष – Conclusion

इम्यून सिस्टम बढ़ती उम्र के साथ कमज़ोर होता ही है हालाँकि अगर आप इन बातों का ध्यान रखेंगे तो ये पक्का है की आपका इम्यून सिस्टम जितना आपने सोचा था उससे कहीं ज़्यादा मजबूत हो जायेगा।

आपने इंटरनेट पर How to Increase Immunity in Hindi जैसे कई लेख देखे व पढ़ें होंगे, पर इस लेख में हमने अपनी पूरी कोशिश की आपको इम्यून सिस्टम के संबंधित विस्तृत जानकारी मिले।

Leave a Comment