Home Health किस बीमारी में कैसे करें Aloe Vera का इस्तेमाल ? पूरी जानकारी

किस बीमारी में कैसे करें Aloe Vera का इस्तेमाल ? पूरी जानकारी

by Rohan Mathew
aloe vera uses

Aloe Vera Uses and Benefits in Hindi : आज के ज़माने में अगर किसी एक दवा का सबसे ज्यादा प्रचार हुआ है या फिर आपको Cosmetic की हर दवा में इसका नाम सुनने में जरूर मिल जायेगा और उसका नाम है Aloe Vera, घृतकुमारी या जिसे आम बोलचाल की भाषा में ग्वारपाठा भी कहा जाता है। अब इसका प्रचार तो बहुत होता है और आप में से बहुत सारे लोग इसे सुबह इसका सेवन भी करते होंगे। पर इसे पीने पर शरीर और त्वचा में क्या क्या काम करता है, किन किन लोगों के लिए ये ज्यादा फायदेमंद है और कोन सी अवस्था में Aloe Vera का उपयोग कम करना चाहिए या उससे बचना चाहिए। चलिए जानते हैं विस्तार से Aloe Vera क्या है, Aloe Vera के फायदे क्या क्या हैं हिंदी में । 

Aloe Vera क्या है 

इस लेख में आज हम एलोवेरा के ऊपर चर्चा करेंगे जिसमें हम Aloe Vera क्या है इसके क्या क्या आयुर्वेदिक गुण हैं वो जानेंगे। साथ ही साथ एलोवेरा के ऊपर क्या क्या शोध हुए हैं और इसके क्या क्या उपयोग आपको विशेष रूप से देखने को मिल सकते हैं। एलोवेरा को आयुर्वेद में घृतकुमारी कहा जाता है अर्थार्त ये जो कुमारी, लड़कियों के रोग होते हैं खासकर की रजो दोष के जो रोग होते हैं उनमें विशेष रूप से उपयोगी है। इसके संस्कृत में २७ से ज्यादा नाम बताये गए हैं जिसमें की वीरा, तरुणी, रमा, कपिला, माता, मंडला इत्यादि।

एलोवेरा एक छोटा सा कटीला पौधा होता है जिसकी पत्तियों में बहुत ही गुणकारी तरल पदार्थ होता है। इसमें कई तरह के प्रोटीन और विटामिन पाए जाते हैं। इसीलिए ये हमारे शरीर और त्वचा के लिए बहुत फायदेमंद होता है। एलोवेरा औषधीय गुणों से भरा होता जिसके नियमित इस्तेमाल से कई तरह के रोगो के उपचार किये जा सकते हैं। आज हम इस लेख में एलोवेरा से जुडी तमाम जानकरी आपके साथ साँझा करेंगे ताकि आप भी एलोवेरा का इस्तेमाल करके इसका फायेदा ले सकेंगे। इसका उपयोग करके आप तंदुरुस्त रह सकते हैं। तो आईये जानते हैं की एलोवेरा के क्या क्या फायदे हैं और इसका उपयोग किस किस तरह से किया जा सकता है।

Aloe Vera में पाए जाने वाले प्रमुख तत्व

एलोवेरा में कई प्रकार के तत्व मिलते हैं जो हमें शारीरिक रूप से मजबूत बनाते हैं जिनमें मुख्य रुप से विटामिन ए,B2, B3 ,B6 ,B12 ,फोलिक एसिड, कैल्शियम ,मैग्नीशियम ,जिंक, आयरन ,पोटेशियम आदि तत्व पाए जाते हैं इसके अलावा इनमें भरपूर मात्रा में एंटी ऑक्सीडेंट भी पाए जाते हैं।

Aloe Vera Uses for Skin | एलोवेरा (घृतकुमारी) के लाभ से त्वचा को निखारें

एलोवेरा (घृतकुमारी) में आवश्यक विटामिन्स, मिनरल्स और एंटी इन्फ्लैमटॉरी प्रॉपर्टीज होती हैं। एलोवेरा त्वचा को गंभीरता से पोषण देता है। अगर आपको एलोवेरा नहीं मिलता तो आप इसका पौधा घर में भी लगा सकते हो या फिर बाजार में जो एलोवेरा जैल मिलता है उसका भी इस्तेमाल कर सकते हैं। तो आईये जानते हैं एलोवेरा के त्वचा पर इस्तेमाल करने लायक पांच तरीके।

1. Cure Pigmentation Problems Aloe Vera

aloe vera uses for pigmentation
Aloe Vera Best for Pigmentation Treatment

पहली चीज है पिगमेंटेशन (pigmentation) जिसे हम हिंदी में झाइयां भी बोलते हैं, पिगमेंटेशन को हटाने में एलोवेरा बहुत मदद करता है। ये उपाए करने के लिए दो चमच एलोवेरा जैल में एक चमच गुलाब जल Rose Water मिला लें। ये मिश्रण अपने चेहरे पर लगा कर इसे १५ मिनट (15 मिनट मिनट) तक छोड़ दें। उसके बाद आप अपना चेहरा ठन्डे पानी से धो लीजिये और धीरे धीरे इसे एक कोमल तोलिये से पोंछ लीजिये। इस उपाए से आपकी Pigmentation की समस्या ख़तम हो जाएगी।

2. Aloe Vera uses for Glowing Skin

Aloe Vera Uses and Benefits In Hindi

ग्लोइंग त्वचा पाने के लिए भी आप एलोवेरा (Aloe Vera) का इस्तेमाल कर सकते हैं, इसके लिए आपको चार चीजों की जरुरत होगी जो आसानी से आपको घर में मिल जाएँगी । २ चमच एलोवेरा जैल में चुटकी भर हल्दी (Turmeric), एक चमच गुलाब जल (Rose Water) और एक चमच शुद्ध शहद (Honey), ये मिला कर आपको एक मिश्रण बना लेना है, ये Face Pack अपने चेहरे पर लगा कर इसे २० मिनट तक छोड़ दें इसमें वो सारी सामग्री (Ingredients) है जो आपकी त्वचा को गोरा बनाने में आपकी मदद करेगी और आपकी त्वचा में निखार आ जायेगा । २० मिनट के बाद अपना चेहरा धो लीजिये इससे आपको ज़रूर फायदा मिलेगा।

3. Aloe Vera Benefits for Forehead Lines, Reduce Wrinkles on Face

Aloe Vera Benefits for Wrinkles

एलोवेरा का तीसरा फायदा है की ये चेहरे की झुर्रियों (Wrinkles) को दूर करने में बहुत लाभकारी होता है, उम्र के बढ़ते बढ़ते हमारे चेहरे का नूर धीरे धीरे कम होने लगता है और हमारी त्वचा पर झुर्रियों पड़ने लग जाती हैं। इस उपाए को करने के लिए बेसन को एलोवेरा जैल को मिला कर इसका एक लेप बना लीजिये और ये लेप अपने चेहरे पर लगा कर १५ मिनट तक इसके सूखने का इंतज़ार कीजिये। बाद में अपने चेहरे को पानी से धो लीजिये इसके इस्तेमाल से Aging Signs यानी की झुर्रियां ख़तम हो जाएँगी।

4. Uses of Aloe Vera for Pimples Free Skin

कील-मुंहासे (Pimples) से छुटकारा पाने के लिए भी एलोवेरा बहुत फायदेमंद माना जाता है। इसके लिए आप एलोवेरा के पत्ते को बीच से काट कर इसे अपने चेहरे पर मसाज करें, इसको रोज़ाना करने से चेहरे से कील-मुंहासे (Pimples) चले जायेंगे और त्वचा में नमी बनी रहेगी।

5. Aloe Vera के फायदे बालों के लिए (Benefits of Aloe Vera for Hair in Hindi)

बालों के झड़ने के समस्या का या इलाज (Cure) करने का कोई भी अभी तक कोई फुल प्रूफ तरीका उपस्थित नहीं है। एलोवेरा, जैल के रूप में ज्यादातर मिलता है ये १००% शुद्ध या कुदरती तोर पर सीधे पौधे से भी इस्तेमाल किया जा सकता है। एलोवेरा जैल में Polysaccharides और Glycoproteins होते हैं जो आपकी सर के तल को ठंडक पहुंचा देते हैं।

इसमें Proteolytic Enzymes भी होते हैं जो तल के Dead Cells की मुरम्मत करते हैं। ये Dormant या Resting Hair Follicles को हेयर ग्रोथ को बढ़ने के लिए प्रोत्साहित भी करते हैं। एलोवेरा Scalp को Moisture और Smoothness भी देता है। जिन लोगों ने केश प्रत्यारोपण (Hair Transplant) करवाया है ऐसे लोगों में एलोवेरा, ऑपरेशन के बाद होने वाली जो Redness रहती है या Scalp जो सूखा रहता है, रूसी,डैंड्रफ (Dandruff) हो जाता है और खुजली जो रहती है उसको कम करने में मदद करता है।

Also Read : Benefits of Buttermilk

एलोवेरा आपके Scalp के pH को समान्तरण करके उसकी सेहत को अच्छा रखता है। ये बालों को कुदरती तरीके से Conditioning देने का काम भी करता है जैसे की रूखे सूखे बालों को अच्छी तरह से मॉइस्चराइज़ करके उनमें नयी चमक भी लाता है। एलोवेरा का उपयोग Hair Texture के लिए बहुत अच्छा कहा जा सकता है। वैसे तो बाजार में एलोवेरा जैल, शैम्पू आसानी से मिल जाते हैं पर अगर आप ताज़ा घर पे बनाया हुआ जैल इस्तेमाल करते हो तो उसके आपको बहुत सारे अच्छे अच्छे गुण भी मिलेंगे। अगर आपको गंजेपन की समस्या है या फिर आपके बाल बहुत ज्यादा झड़ते हैं तो एलोवेरा आपके लिए बहुत उपयोगी साबित होगा।

एलोवेरा का सेवन है पीलिया के लिए फायदेमंद (Aloe Vera Uses for Jaundice in Hindi)

अगर आप पीलिया से परेशान हैं, तो एलोवेरा फायदेमंद हो सकता है। इसके लिए 10 /20 मिलीग्राम एलोवेरा के रस को दिन में तीन चार बार पिलाने से आपको फायदा ही होने वाला है। ऐसा करने से भी कब्जे में मुक्ति मिलती है।

कमर दर्द में भी है फायदेमंद (Aloe Vera Benefits for Back Pain in Hindi)

गेहूं का आटा, घी, एलोवेरा के गूदा को लेकर यदि आप इसे गूथ ले और इससे अगर रोटी बना ले, तो इससे आपको बहुत ही फायदा होने वाला है। साथ ही साथ कमर दर्द से भी राहत मिल सकती है।

एलोवेरा कहां प्राप्त होता है (Where is Aloe Vera Found In Hindi)

एलोवेरा का उपयोग भारत के प्रत्येक हिस्से में किया जाता है इसीलिए एलोवेरा की खेती भी भारत के कई राज्यों जैसे महाराष्ट्र, गुजरात, दक्षिण भारत में की जाती है। इसकी खेती रणथंबोर राष्ट्रीय उद्यान में विशाल रूप से भी की जाती है।

एलोवेरा जूस भी है फायदेमंद (Aloe Vera Juice Benefits In Hindi)

अगर आप स्वस्थ रहना चाहते हैं, तो एलोवेरा ( Aloevera )जूस पीना भी फायदेमंद होगा। इस के जूस से बीमारियां दूर होती हैं साथ ही साथ रोग प्रतिरोधक क्षमता भी बढ़ जाती है। इस के जूस के सेवन से कई लोगों से दूरी बनाई जा सकती है। अगर आप घर में ही जूस बनाकर सेवन करें, तो यह आपके लिए बहुत ही फायदेमंद होगा। जूस के माध्यम से चेहरे में रौनक भी आती है।

एलोवेरा के दुष्प्रभाव | Aloe Vera Juice Side Effects for Health 

अपने एलो वेरा जूस के बहुत सारे फायदे सुने होंगे, इसे त्वचा पर लगाने से लेकर इसके जूस को पीने से होने वाले फायदों से आप अच्छी तरह वाकिफ होंगे, पर क्या आप जानते हैं की इससे होने वाले नुक्सान भी बहुत हैं। जी हाँ, हैरान न हों ये सच है की जिस तरह एलो वेरा को आप बहुत सारी परेशानियों का रामबाण मानते हैं ठीक उसी तरह इसके कुछ भयंकर नुक्सान भी होते हैं।

एलो वेरा में मौजूद Laxative के कारण आपको कई तरह की परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है। आईये जानते हैं उन परेशाईनों के बारे में, बात करेंगे पहले दुष्प्रभाव की।
एलो वेरा बहुत सारे लोगों की त्वचा के लिए वरदान की तरह काम करता है पर है की इसका ज्यादा इस्तेमाल आप पर भारी पढ़ है। इसके ज्यादा इस्तेमाल से आपकी त्वचा पर खुजली हो सकती है।

एलोवेरा (घृतकुमारी) के भयंकर दुष्प्रभाव (Side Effects of Aloe Vera in Hindi)

Blood Pressure Problems :

बात करें एलो वेरा जूस की तो एलो वेरा जूस का रोज़ाना सेवन करने से रक्तचाप (Blood Pressure) बेहद कम हो जाता है, उच्च रक्तचाप (High Blood Pressure) से परेशान लोगों के लिए इसका सेवन अच्छा है लेकिन Low Blood Pressure के मरीज़ों के लिए ये परेशानी की वजह बन सकता है। बात करेंगे कमज़ोरी की , जिन लोगों को दिल से सम्बंधित कोई परेशानी हो उन्हें एलो वेरा के सेवन से बचना चाहिए। रोज़ाना इसके सेवन से अनियमित दिल की धड़कन और शारीरिक कमज़ोरी हो सकती है।

Irritable Bowel Syndrome :

अगर आपको कब्ज़ की शिकायत है तो एलो वेरा जूस से दूर रहें क्यूंकि एलोवेरा जूस में laxative आपकी I.B.S की शिकायत को और भी ज्यादा बढ़ा देते हैं। सेवन से Diarrhea और Loose Motion की शिकायत हो सकती है।

सर्दियों में वरदान है Aloe Vera 

सर्दियों में अगर एलोवेरा जेल और नारियल तेल को मिलाकर चेहरे पर लगाया जाए तो चेहरा चमकदार हो जाता है। साथ ही अगर चेहरे में एलोवेरा जेल और दही को मिलाकर लगाएं तो इससे भी आपको फायदा नजर आएगा। सर्दियों में इनका उपयोग करना आपके लिए फायदेमंद हो सकता है।

Aloe Vera in Pregnancy : जो महिलाएं गर्भवती हैं और जो महिलाएं अपने शिशु को स्तनपान करा रहीं हैं उन महिलाओं को एलोवेरा के सेवन से बचना चाहिए। एलोवेरा का जूस गर्भावस्था में आपके लिए परेशानी बन सकता है तो हो सके तो इसके इस्तेमाल से बचें। गर्भावस्था में अगर कोई महिला एलोवेरा का इस्तेमाल करती है तो गर्भपात (Miscarriage) हो सकता है या बच्चे में जन्मजात कोई दोष भी हो सकता है।

12 साल से काम उम्र के बच्चों के लिए एलोवेरा का जूस सुरक्षित नहीं होता इसमें मौजूद लेक्सेटिव दवाओं के असर को रोकते हैं। अगर कोई व्यक्ति किसी तरह की दवाईयों का सेवन कर रहा है तो साथ में एलोवेरा का अधिक इस्तेमाल करने से उन दवाईयों का असर काम होगा। मतलब की शरीर में दवाओं का लाभ काम मिलेगा।

उम्मीद करते हैं Benefits of Aloe Vera in Hindi का लेख आपको पसंद आया होगा और आपने जाना की Aloe Vera क्या है और कैसे काम करता है शरीर में। ये आर्टिकल पूरा पढ़ने के लिए आप का धन्यवाद। 

Related Articles

Leave a Comment